Astrology and Spirituality Lifestyle

आज इन राशियों पर रहेगी गणपति की कृपा, हो जाएंगे निहाल

हस्त ‘क्षिप्र व तिङ्र्यंमुख’ संज्ञक नक्षत्र दोपहर बाद १.४६ तक, तदुपरान्त चित्रा ‘मृदु व तिङ्र्यंमुख’ संज्ञक नक्षत्र है। प्रीति नामक योग रात्रि ९.१९ तक, इसके बाद आयुष्मान नामक योग है। मेषआकस्मिक यात्रा के योग हैं। संतों का सान्निध्य प्राप्त हो सकता है। उत्साह और उमंग का वातावरण रहेगा। महत्व के कार्य सिद्ध होंगे। समाज में […]