cricket news
Sports

स्मिथ और वॉर्नर की छुट्टी भारत के पास 71 साल बाद इतिहास रचने का मौका

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम मौजूदा समय में अपने इतिहास के सबसे बुरे दौर से गुजर रही है, जिसका कारण बने हैं स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर। यह दोनों बल्लेबाज बॉल टेंपरिंग करने के दोषी पाए गए हैं जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट ने उनपर एक-एक साल का बैन लगा दिया। स्मिथ और वॉर्नर के बिना ऑस्ट्रेलिया टीम कमजोर है, क्योंकि दोनों ने अपने दम पर टीम को कई मैच जितवाए हैं। लेकिन अब इनकी गैर-मौजूदगी का फायदा अन्य टीमों को जरूर पहुंचेगा।
भारत के पास 71 साल बाद इतिहास रचने का मौका
स्मिथ-वॉर्नर के बाहर होने का सबेस बड़ा फायदा भारतीय क्रिकेट टीम को पहुंच सकता है। भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच इसी साल नवंबर-दिसंबर के महीने में 4 टेस्ट मैचों की सीरीज होने की संभावना है। अगर सीरीज होती है तो भारतीय टीम के पास ऑस्ट्रेलिया की धरती पर 71 साल बाद टेस्ट क्रिकेट में इतिहास रचने का मौका रहेगा। पिछले इतने सालों से भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया की धरती पर कोई भी टेस्ट सीरीज नहीं जीत सकी। अगर भारत सीरीज जीतता है तो उसे इतिहास के पन्नों में सुनहरे अक्षरों में लिखा जाएगा।
ऑस्ट्रेलियाई धरती पर भारत का है शर्मनाक प्रदर्शन
भारतीय टीम का ऑस्ट्रेलियाई धरती पर बेहद शर्मनाक प्रदर्शन है। भारत यहां 1947 से लेकर अबतक 11 सीरीज खेल चुका है, जिसमें उसे 8 में हार का सामना करना पड़ा जबकि 3 सीरीज ड्रॉ पर समाप्त हुईं। अब भारत चाहेगा कि वह स्मिथ वॉर्नर की गैर-मौजूदगी में पहली बार ऑस्ट्रेलिया में सीरीज पर कब्जा करे। मौजूदा समय में ‘विराट सेना’ भी फॉर्म में है और ऐसे में जब कंगारूओं का पक्ष कमजोर होगा तो भारतीय टीम मौके पर चौका मारने से नहीं चूकेगी।
आखिरी दौरे में स्मिथ-वॉर्नर पड़े थे भारी
भारत का आखिरी ऑस्ट्रेलियाई दौरा दिसंबर 2014-15 में 4 टेस्ट मैचों के लिए हुआ था। भारत ने यह सीरीज 2-0 से गंवाई थी। इस सीरीज में भारत की हार का कारण स्टीव स्मिथ ही बने थे। उस समय वह बतौर बल्लेबाज भूमिका निभा रहे थे, जबकि टीम की कमान माइकल क्लार्क के हाथों में थी। स्मिथ अकेले ही भारतीय टीम पर भाड़ी पड़े थे। उन्होंने 4 मैचों में 769 रन ठोके, जिसमें 4 शतक भी शामिल थे। भारत ने जो पहले 2 टेस्ट हारे थे उनमें स्मिथ के शतक भी थे। वहीं डेविड वॉर्नर ने भी अच्छा प्रदर्शन किया था। उन्होंने 4 मैचों में 3 शतकों की बदौलत 427 रन बनाए थे। बता दें कि 9 दिसंबर को एडिलेट में हुए पहले टेस्ट में वॉर्नर ने दोनों पारियों में शतक लगाए थे और ऑस्ट्रेलिया ने यह मैच 48 रनों से जीता था।
भारत के खिलाफ है 84.05 का औसत
अगर हम स्मिथ के भारत के खिलाफ हुए प्रदर्शन पर नजर डालें, तो आंकड़े चौंकाने वाले हैं। स्मिथ ने अबतक भारत के खिलाफ 10 टेस्ट खेले हैं, जिसमें उन्होंने 84.05 की औसत से 1429 रन बनाए हैं। इसमें 7 शतक और 3 अर्धशतक शामिल हैं। यहां से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि यदि स्मिथ नवंबर में होने वाली भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज नहीं खेले तो ऑस्ट्रेलिया को उसका कितना नुक्सान झेलना पड़ सकता है। खैर, अब देखना यह बाकी है कि क्या कप्तान विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया की धरती पर पहली बार सीरीज जीतकर इतिहास रच पाएगी या नहीं?

Amit Khan
I am a enthusiastic journalist and work for day and night to aware people about new events and local problems about your city and state.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *